जीरो मिला तो बंद कर दिया विश्वविद्यालय का रास्ता

वार्षिक परीक्षाओं में फेल छात्र-छात्राओं ने छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय परिसर में शुक्रवार को हंगामा किया। इनमें से कई छात्र-छात्राएं ऐसे हैं जिन्हें जीरो अंक भी मिले हैं। डीएवी, महिला महाविद्यालय, एएनडी, डीजी व पीपीएन समेत अन्य कालेज के छात्र-छात्राओं ने इस दौरान विश्वविद्यालय में आने-जाने का रास्ता बंद कर दिया। तीन घंटे से अधिक समय तक कर्मचारियों से लेकर आगंतुक किसी को अंदर नहीं आने दिया।

सुबह दस बजे छात्र-छात्राओं ने विश्वविद्यालय परिसर में हंगामा शुरू किया। आला अधिकारियों के ना मिलने पर वे 11 बजे विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार के पास धरने पर बैठ गए। मौके पर पहुंची पुलिस की बात भी उन्होंने नहीं सुनी। छात्र-छात्राएं दोबारा मूल्यांकन की मांग पर अड़े थे। उन्हें समझाने के लिए डिप्टी रजिस्ट्रार रणजीत यादव पहुंचे। एमएससी जन्तु विज्ञान प्रथम वर्ष की परीक्षा में जीरो मिलने से नाराज छात्र-छात्राओं ने आरोप लगाया कि उनकी उत्तरपुस्तिकाओं को जांचा तक नहीं गया है। जिसकी उत्तरपुस्तिका पर जितने चाहे अंक दे दिए। जीरो मिलने से न केवल एक साल खराब हो रहा है बल्कि डिवीजन भी प्रभावित होगी। एमएससी जंतु विज्ञान के अलावा बीए प्रथम वर्ष के ऐसे कई छात्र-छात्राएं भी धरने में शामिल रहे जिन्हें फेल कर दिया गया है।

‘जिन छात्र-छात्राओं को कम अंक मिले हैं वे अपनी उत्तरपुस्तिकाएं ऑनलाइन देख सकते हैं। अगर उन्हें मूल्यांकन में गलती लगती है तो उसे दुरुस्त करने के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन के पास प्रार्थनापत्र दे सकते हैं। जिन्हें जीरो अंक मिले हैं केवल उन्हीं छात्र-छात्राओं की उत्तरपुस्तिकाएं विश्वविद्यालय अपने स्तर से देखेगा।’

प्रो. जेवी वैशम्पायन, कुलपति सीएसजेएमयू

एडमिशन प्रक्रिया पूरी, जीएसवीएम में तीन सीटें बचीं

सीपीएमटी 2015 की प्रथम चरण की काउंसिलिंग में शामिल होकर जीएसवीएम मेडिकल कालेज में सीट एलाटमेंट कराने वाले अभ्यर्थियों की तीन दिन चली प्रवेश प्रक्रिया शुक्रवार को संपन्न हो गई। अंतिम दिन 54 अभ्यर्थियों ने एडमिशन लिया। तीन दिन में 157 छात्र-छात्राओं ने प्रवेश लिया। अंतिम समय में एक छात्र के सीट छोड़ने से एडमिशन की संख्या 156 हो गई, जबकि दो अभ्यर्थी आए ही नहीं। इससे जीएसवीएम मेडिकल कालेज की तीन सीटें रिक्त रह गई।

पहले चरण की सीपीएमटी काउंसलिंग के जरिए पसंदीदा मेडिकल कालेज चुनने वाले सामान्य, ओबीसी, एससी/एसटी संवर्ग एवं छात्रों की एडमिशन प्रक्रिया बुधवार से कॉलेज की मुख्य बिल्डिंग के परीक्षा भवन में प्रवेश प्रक्रिया में शुरू हुई। यूपी सीपीएमटी कोटे में जीएसवीएम मेडिकल कालेज की 159 सीटें थीं। पहले दिन प्रवेश प्रक्रिया में शामिल होकर 53 छात्र-छात्राओं ने एडमिशन लिया। दूसरे दिन गुरुवार को आरक्षित वर्ग के छात्र बुलाए गए थे। बावजूद इसके चार छात्राएं भी प्रवेश के लिए पहुंचीं। ऐसे में 50 छात्र-छात्राओं के एडमिशन हुए। तीसरे दिन शुक्रवार को 54 एडमिशन हुए। इसमें दो छात्र भी दाखिले के लिए पहुंचे थे। काउंसिलिंग सेंटर प्रभारी डॉ. महेंद्र सिंह ने बताया अंतिम समय में सामान्य कटेगरी के एक छात्र ने एडमिशन लेने के बाद इस्तीफा दे दिया। वहीं दो छात्र सीट एलाटमेंट कराने के बाद भी प्रवेश लेने नहीं पहुंचे। ऐसे में कालेज की 159 सीटों में 156 सीटें ही भर पाई।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s