हैलट आईसीयू में मेडिसिन व एनेस्थेसिया के 24 बेड बढ़ेंगे

9999795084अब गंभीर मरीजों को मिलेगी राहत फरवरी से बढ़े हुए बेडों पर भर्ती शुरू हो जाएगी
जीएसवीएम मेडिकल कालेज से सम्बद्ध हैलट में मेडिसिन व एनेस्थेसिया आईसीयू में 24 बिस्तर बढ़ेंगे। दरअसल हैलट के ट्रामा सेंटर के लिए नर्स, टेक्नीशियन व अन्य स्टाफ की भर्ती हुई है। फरवरी से बढ़े हुए बेडों पर भर्ती शुरू हो जाएगी। इससे गंभीर मरीजों को आईसीयू में बेड खाली न होने की समस्या से निजात मिल जाएगी। बसपा शासनकाल में हैलट इमरजेंसी में 56 बिस्तर क्षमता वाले आईसीयू (सघन चिकित्सा यूनिट) का शुभारंभ किया गया था। स्टाफ की भर्ती न होने के चलते अभी तक आईसीयू के 32 बिस्तरों पर भी मरीजों की भर्ती हो रही है। बीते दिनों हैलट के ट्रामा सेंटर के लिए आउटसोर्सिग पर 30 नर्स, 12 टेक्नीशियन, 5 कंप्यूटर आपरेटर व अन्य पदों पर भर्ती हो चुकी है। स्टाफ की कमी दूर होने से फरवरी माह से आईसीयू के मेडिसिन सेक्शन में 12 व एनेस्थेसिया सेक्शन में 12 और बेड बढ़ जाएंगे। वर्तमान में दोनों सेक्शन में 12-12 बेड पर गंभीर रोगी भर्ती हो रहे हैं। आईसीयू में 24 वेंटीलेटर की सुविधा पहले से मौजूद है। स्टाफ आने से बंद पड़े वेंटीलेटर भी चालू हो सकेंगे। आईसीयू के सभी बेडों पर भर्ती शुरू होने से गंभीर मरीजों को राहत मिलेगी। आईसीयू में बेड खाली न होने की समस्या से निजात मिल जाएगी। बेड खाली न होने से जनरल वार्ड में शिफ्ट करने की मजबूरीहैलट इमरजेंसी में रोजाना 6 से 7 ऐसे मरीज आते हैं, जिन्हें आईसीयू की जरुरत पड़ती है। आईसीयू में बेड खाली न होने पर गंभीर मरीजों को मेडिसिन वार्ड में भर्ती करना पड़ता है। वेंटीलेटर की जरुरत पड़ने पर मरीजों की जान पर बन आती है। बेहतर इलाज न मिलने पर जूनियर डाक्टर व तीमारदारों के बीच झगड़े भी होते हैं।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s